स्वाभिमान से भारत नहीं कर सकता समझौता,एक इंच जमीन भी कोई छू नहीं सकता: रक्षामंत्री

0
1210
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को भारत-चीन सीमा के हालात का जायजा लेने लद्दाख पहुंचे। उन्होंने सेना के जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि ‘भारत अपने स्वाभिमान से समझौता नहीं कर सकता, जवानों के बलिदान व्यर्थ नहीं जाएंगे’ उसके अलावा रक्षा मंत्री ने देशवासियों को आश्वासन दिलाते हुए कहा कि ‘भारत की एक इंच जमीन भी दुनिया की कोई ताकत छू नहीं सकती’। रक्षा मंत्री के साथ चीफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, थल सेना प्रमुख एमएन नरवणे भी साथ हैं। इस दौरे के बाद रक्षा मंत्री एलओसी पर भी जाएंगे।

बातचीत से किस हद तक हल निकलेगा, कहा नहीं जा सकता: रक्षा मंत्री

रक्षा मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि ‘दोनों देशों के बीच मसले सुलझाने के लिए लगातार बातचीत हो रही है लेकिन बातचीत से कितना हल निकलेगा यह अभी नहीं कहा जा सकता’। उन्होंने आगे कहा कि हमें हमारी सेना पर गर्व है और आज मैं आपके साथ उपस्थित होकर गर्वित महसूस कर रहा हूं, हमारे जवानों ने देश के लिए जान दी है 130 करोड़ भारतीय इससे दुखी हैं’।

रक्षामंत्री का दौरा बेहद अहम

रक्षा मंत्री गलवान घाटी हिंसा के लगभग एक महीने बाद लद्दाख पहुंचे हैं। रक्षा मंत्री का यह बयान तब आया है जब लगातार चीन के साथ तनाव कम करने के लिए बातचीत हो रही है अभी 2 दिन पहले ही लेफ्टिनेंट जनरल रैंक अधिकारियों ने स्कूल में मीटिंग की थी जिसमें दोनों देशों ने तनाव कम करने पर सहमति जताई थी।

जब पीएम ने लद्दाख पहुंच चौकाया था सबको

आपको बता दें कि रक्षा मंत्री का यह दौरा 3 जुलाई को होना था। मगर उनकी जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख का अचानक दौरा करके सभी को चौंका दिया था। पीएम ने अपने दौरे में सीमा विवाद से निपटने में भारत की जनता के दृढ़ता के संकेत दिए थे। साथ ही अस्पताल में इलाज करा रहे घायल जवानों से बातचीत कर हौसलाफजाई भी किया था।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here